top 10 google adsense alternative kya hai hindi me?

Top 10 google adsense alternatives in hindi:-

google adsense ke vikalp kya hai hindi me

google adsesnse के विकल्प:-

loading…

hello dosto, kese hai aap aaj ham is post me google adsense alternatives (विकल्प) ke bare me padhenge.

Agar aap is post ko padh rahe hai to yaa to aapka adsense approve nahi hua hai ya fir aap uske saath dusre ad network ka use krna chahte hai. To aap sahi jagah par aaye hai. Agar aapka adsense account approve nahi hua hai to chinta mat kijiye aap dusre ad network ka pryog krke achha khasa kama skte hai.

Meri ek dusri website hai jisme mera bhi adsense account approve nahi hua hai phir bhi mai usse abhi bhi kama rha hu.

To aaj mai aapko un ad networks ke bare me bataunga jo adsense ke ache vikalp saabit ho skte hai. Inme se jyadatar ad network mene khud try kiye hai to dosto chaliye unke baare me jaante hai.

1:- AdNow:- yah ek native advertising ad network hai. Yh bahut hi accha pay krta ha. Mai iska abhi bhi pryog krta hu. Jisse me achhi earning kar rha hu. Yah bahut teji se popular ho rha hai.

Ek din mai aise hi achhikhabar.com me koi article padh rha tha to vha par mene iske ad lage dekhe. Maine socha yar agr itni badi website me iske ad lage hai to yah achha ad network hoga (aap befikar ho jaaiye yah pay krta hai tatha yah scam ad network nahi hai.)

Agar aap isse $20 kama lete hai to aap isse rupay nikaal skte hai.

Isme apply krne ke liye traffic ki koi requirements nahi hai agar aapki website ka traffic kam bhi hai to bhi aap iske liye apply kar skte hai. Aur ads apne blog me lga skte hai.

Yah ek widget par aadharit ad network hai means aapko isme ad widget create krna hota hai aur ad code copy krke apne blog me paste krna hota hai. Aapke blog me ads dikhne lag jaayenge.

Adnow ke baare me vistar se agli post me padhenge.

To adnow ko join krne ke liye click kre.

adnow-in-hindi

2:- PropellerAds:- propellerads ek pop up ad network hai. Yah CPM par aadharit hai. Yah bhi ek achha google adsense alternative hai. Bahut saare blogger is ad network ka pryog krte hai. Isme aap bahut saare ads jaise banner, pop up aadi pryog kar skte hai.

Jab aap isse $100 kama lete hai to aap paise nikaal skte hai. Yh paypal ko support nahi krta hai aap payoneer ke dwara paise nikaal skte hai. ye hindi blogs ke liye bahut achha hai ek baar try krke dekh lijiye..

join krne ke liye click kre.

propeller-ads-hindi

3:- Bidvertiser:- mene jitni bhi hindi websites dekhi unme sabse jyada do ad network bidvertiser aur chitika ke baare me likha hua tha. To mene socha kyu na inka pryog krke dekha jaaye.

Bidvertiser ek CPM/CPC par aadharit ad network hai. Iske baare me sbse achha mujhe ye lga ki isme aapko sirf account bnana hai aur aap ads ko apne blog me lga skte hai aur jab aapke $10 ho jaaye to aap paise nikaal skte hai.

Mene iska pryog ek hafte ke liye kiya aur mujhe laga ki vakyi yh ek achha ad network hai. Agar aapki website ka traffic achha hai to aap iska pryog krke achha kama skte hai.

4:- Chitika:- jab mene apni site bnayi thi to sabse pahle chitika ka pryog kiya tha. Yh ek achhi ad company hai. Agar aapka website ka traffic kam bhi hai to bhi aap isme apply kar skte hai aapko jaldi approval mil jaayega.

Chitika me samjhne wali baat yh hai ki iske ads unhi visitors ko dikhte hai jo search engines se aaye hote hai.

Jab aapke isme $ ho jaaye to aap isse paise nikaal skte hai.

5:- Taboola:- yh ad network AdNow ki tarah hi hai arthat yah bhi ek native network hai. Isme bhi aap adnow ki tarah hi paise kama skte hai. Taboola me approval milna thoda mushkil hai par aap ise try krke dekh lijiye.

Jyadatar yah adhik traffic wali sites ko hi approve krta hai. Agar aapki site ya blog ka traffic kam hai to aapko approval nahi milega. Aap taboola ke ads ko adsense ads ke saath bhi pryog kar skte hai.

Yah CPM aur CPC par aadharit network hai. Aap isme paise payoneer ke dwara nikal skte hai kyuki yah paypal ko support nahi krta hai.

6:- RevenueHits:– revenuehits ek aur achha network hai jo ki ek CPA aadharit hai CPA ka arth hai cost per action. Isme aapko CPM, CPC ke paise nahi milte hai. Agar koi visitor Ads par click krke koi action leta hai tbhi aapko paise milte hai.

Agar aap isme $20 kama lete hai to aap paise paypal ke maadhym se nikal skte hai.

7 :- PopAds:- yah bhi ek bhut achha ad network hai jo iske publishers ko achha pay krta hai. PopAds koi scam ad network nahi hai. Mai isse acha kama chuka hu aur yah pay krta hai. Iski alexa rank 57 hai arthat yah duniya ke top 60 websites me hai.

Yah ek pop ad network hai aur CPM par aadharit hai arthat yah aapko 1000/page views ke hisaab se pay krta hai. Aap aasani se isme apna account bna skte hai.

Jab aap isme $5 kama lete hai to aap ise nikaal skte hai. Aap isme bahut se methods ke jariye paise nikaal skte hai prntu sabse aasan tarika paypal hai.

8:- Media.net:- mujhe lgta hai ki media.net ek bahut hi achha adsense alternative hai. Lekin pareshani yah hai ki yah hindi bahsa ko support nahi krta hai. Yah Yahoo aur Bing company ka network hai.

Agar aapke isse $100 kama lete hai to aap paypal ke madhym se paise nikaal skte hai.

9:- Amazon ads:- amazon ka naam to aapne suna hi hoga ye affiliate marketing company hai. Lekin yah company CPM ads lagane ko bhi deti hai arthat aap impressions par bhi paise kama skte hai. Prntu yah gine chune users ko hi cpm ads lagaane ki request bhejti hai. Aap khud se cpm ads lagane ke liye nahi kah skte. Kuch dino pahle amazon ka mujhe cpm ads lagaane ka invitation aaya tha to maine iska pryog kiya aur yakin maniye maine isse bahut hi achhi kamai ki. M iska pryog aaj bhi kar rha hu.

10:- Adversal:- adversal jo hai ek CPM ad network hai jiski shuruwaat 2003 me hui thi to yah ek bahut hi puraani company hai. lekin iska approval milna bhi mushkil hai lekin agar isme approval mil jaata hai to achha CPM rate deti hai yah kewal english sites ko hi approval deti hai aur aapki website ka traffic kam se kam 50000 pageviews/month hona chahiye. agar aap isse $20 kama lete hai to aap paise paypal ke dwara nikaal skte hai.

Other useful adsense alternatives:-

1:- adsoptimal

2:- yllix

3:- advertopia

sabse jaruri baat yah hai ki hamara traffic jitna jyada hoga hamari earning bhi utni hi achi hogi to aap apna phle pura focus kaam me dijiye post bnaiye aur tab jaake aap paise kama skte hai.

agar aapne bhi in ad networks ka pryog kiya hai to aap apne experience ko comment ke maadhym se bta skte hai tatha aap koi anya adsense alternative use krte hai hame btaiye..bye happy blogging….

Advertisements

hardware kya hai hindi me?

hardware & hardware devices in hindi:-

hardware {हार्डवेयर} क्या है? हिंदी में

Computer {कंप्यूटर} दो भागों से मिलकर बना है जिसमे एक है software {सॉफ्टवेयर} जिसके बारे में हम पिछले article {आर्टिकल} में पढ़ चुके है तथा दूसरा भाग है hardware {हार्डवेयर} जिसके बारे में आज हम इस article के माध्यम से जानेंगे कि:-

Continue reading “hardware kya hai hindi me?”

processor kya hai hindi me?

processor क्या है? हिंदी में

किसी भी computer के पांच मुख्य भाग होते है| चाहे वह नया computer हो या पुराना computer किसी भी कंप्यूटर में ये पांच मुख्य भाग होते है| ये पांच भाग है:- Continue reading “processor kya hai hindi me?”

blogging se paise kaise kamaye?

BLOGGING पर पैसे कैसे कमायें हिंदी में?

BLOGGING पर कोई भी कार्य करने से पहले यह जानना जरूरी है कि blogging क्या है?

जब कभी हम इन्टरनेट पर किसी TOPIC पर search करते है तो हमें जो RESULT प्राप्त होते है वाही BLOG कहलाता है| Continue reading “blogging se paise kaise kamaye?”

wordpress kya hai aur isme free blog kaise bnaye hindi me

 

wordpress पर free blog कैसे बनाये हिंदी में

hello दोस्तों आज मैं आपको wordpress पर free blog बनाने के बारे में बताऊंगा लेकिन wordpress पर कोई भी काम करने से पहले यह जानना जरूरी है कि wordpress क्या है?

wordpress क्या है?

wordpress एक blog software है| जो कि blogging के लिए बेहद आसन है|यह software content management system पर आधारित होता है| जब हम blog पर कोई पोस्ट लिखते है है हमें वही दिखता है जो हम front page पर लिखते है लेकिन उसके पीछे programming language नही दिखती है यही C.M.S. है|internet पर blog बनाने के लिए मुख्यतः दो sites है|जिसमे एक है है blogger.com जिसे google द्वारा विकसित किया गया है|और दूसरी website है wordpress.com जिसके बारे में अभी हम पढ रहे है|क्योंकि हम wordpress.com पर free में blog बनाने के steps के बारे में पढह रहे है|इसलिए हम wordpress के बारे में जानेंगे:—

wordpress कि शुरुआत सन 2003  MET MULENWEG और MIKE LITTLE  द्वारा कि गई थी| wordpress को blogging की दुनिया का TECHGURU  कहा जाता है| ये वेबसाइट पूरी दुनिया में बहुत FAMOUS है| लाखों लोग wordpress का प्रयोग करके website बनाते है|

wordpress कि दो sites है wordpress.com और wordpress.org इन sites में यदि आप wordpress.org में वेबसाइट बनाते है तो इसके लिए आपको web hosting लेनी पड़ती है| और web hosting में आपके पैसे लगते है| और अगर आप wordpress.com पर वेबसाइट बनाते है तो इसके लिए आपको कोई पैसे नही देने पड़ते है|

blogging कि दुनिया में अधिकतर लोग wordpress.org से अपना blog बनाते है|यह software पूरी तरह से PHP और MY SQL पर आधारित होता है| wordpress पर हम आसानी से पोस्ट लिखकर उसे publish,edit या delete भी कर सकते है|

wordpress

PHP क्या है?

PHP एक programming language है|wordpress पर यदि हम काम कर रहे है तो हमें थोड़ी सी PHP लैंग्वेज आना जरूरी है| PHP लैंग्वेज का पूरा नाम { pre hypertext programming लैंग्वेज} है| इसका उपयोग हम HTML browser पर करते है|

अब हम MY SQL language के बारे में जानते है:—–

MY SQL क्या है?

wordpress पर कुछ भी save नही होता है| यह data base से जुड़ा होता है| जिसमे हम photo,video या अन्य document को store कर सकते है|

PLUGGIN क्या है?

plugin

wordpress pluggin code का एक group होता है|जो wordpress की functionality बढाता है| अर्थात हमें wordpress पर नए features को बढ़ाना है तो हमे pluggin को use करना पड़ेगा और इसके लिए हमे pluggin को add करना पड़ेगा| wordpress पर हम सिर्फ simple site बना सकते है और हमे अपनी वेबसाइट में नए feature add करने है तो इसके लिए हमें pluggin को use करना पड़ेगा| यहाँ पर कुछ pluggin का example दिया जा रहा है|

W3 inster:– यह adsense जैसी add site में लगाया जाता है|

W3 total cache:– यह आपकी site में speed को approve करता है|

ऐसी अनेको site है जिन्हें हम अपनी site में free में add कर सकते है और उन्हें use कर सकते है|

अब हम wordpress में pluggin को install करने कि विधियों के बारे में जानेंगे:–

1:– wordpress कि dashboard से pluggin को install करें|

अधिकतर लोग इसी method का use करते है| इससे pluggin install करना ज्यादा आसान होता है| wordpress dashboard से pluggin को install करने के लिए दिए गए steps को फॉलो करें|

1- अपने wordpress account में log in करें|

2- wordpress dashboard पर जाएँ|

3- dashboard  पर आपको बहुत option दिखेंगे|वहां pluggin पर click कर add new पर click करें|

4- अब जो pluggin आप अपनी site में add करना चाहते है उस pluggin का नाम लिखकर search करें|

5- अब आपने जो search किया है उसके आगे install now लिखा हुआ आएगा उस पर click करें|

6- अब आपको एक link दिखाई देगा इस पर click करके pluggin को install कर ले|

wordpress पर dashbord से pluggin install करने के अलावा अनेकों method है| जिनसे आप pluggin install कर सकते है| लेकिन ये method easy है| अभी तक हमने wordpress और wordpress features के बारें में पढ़ा|अब हम wordpress पर blog बनाने के बारे में जानेंगे:-

step1:- सबसे पहले wordpress.com पर जाएँ|उसके बाद create blog पर click करें create blog पर click करते ही आपके सामने theme choose करने का option आएगा आप अपना मनपसंद theme चुन सकते है|

step2- अब आपको blog पर  domain choose करना पड़ेगा जो example.wordpress.com के रूप का होगा|

step3-  अब select free plan पर click करें|

step4- अब आप अपना email address enter करें जिससे आप अपना blog बनाना चाहते है|

step5- username select कर strong password enter करें|

step6- create account पर click कर दे|

अब आपका wordpress blog बनकर तैयार हो जायेगा और आपको email verify करने के लिए कहा जायेगा आप e-mail पर जाकर wordpress message के link पर click कर अपना e-mail verify कर सकते है|

USB OTG cable kya hai hindi me.

USB OTG CABLE क्या है

USB OTG CABLE का नाम तो आप लोगो ने सुना ही होगा यह एक तार कि तरह होता है जिसे हम MOBILE या COMPUTER से जोड़कर अतिरिक्त memory प्राप्त कर सकते है| USB का पूरा नाम UNIVERSAL SERIAL BUS है| और OTG का पूरा नाम ON THE GO CABLE है| इस cable में दो साइड्स होती है यह एक तरफ MOBILE JACK के साथ के साथ तथा दूसरी तरफ से PEN DRIVE से जोड़ते है| OTG CABLE का उपयोग मोबाइल में अतिरिक्त EXTERNAL memory प्राप्त करने के लिए किया जाता है| इसके अलावा इसके और भी फायदे है————–otg

1- इसे KEY BOARD से कनेक्ट कर सकते है|

OTG CABLE को MOBILE और KEY BOARD से कनेक्ट करके जो TYPING हम KEY BOARD पर करेंगे वह टाइपिंग मोबाइल पर होती रहेगी| कुछ लोग MOBILE के मुकाबले की बोर्ड पर तेजी से टाइपिंग कर लेते है यह उन लोगो के लिए बहुत फायदेमंद है|

2-  USB OTG cable को MOUSE से CONNECT कर USE कर सकते है|

कई बार मोबाइल में कर्सर का निशान आ जाता है उस समय हम USB OTG CABLE का प्रयोग कर सकते है|

3- हम OTG CABLE कि सहायता से अपना मोबाइल भी CHARGE कर सकते है|

हम OTG CABLE से अपना मोबाइल भी CHARGE कर सकते है इसके लिए हमे अतिरिक्त USB CABLE कि आवश्यकता होती है|

4- USB OTG cable कि सहायता से हम अपना MOBILE गेम कंट्रोलर CONNECT कर सकते है|

इसके आलावा हमे OTG cable से बहुत फायदे है| इसे हम सिर्फ SMARTFONES से ही कनेक्ट कर सकते है पुराने PHONES में यह FEATURE नहीं होता है| इसके आलावा USB ओत्ग cable को हम 3G/4G DONGLE व MODEM  से भी CONNECT हो सकता है| इसकी मदद से DSLR CAMERA अपने SMARTPHONES से कनेक्ट कर सकता है|

software kya hai सॉफ्टवेर क्या है?

SOFTWARE in hindi

किसी भी कंप्यूटर के दो मुख्य भाग होते है HARDWARE और SOFTWARE इनके बिना कंप्यूटर कुछ भी नहीं है| हार्डवेयर वह होते जिन्हें हम देख सकते है उन्हें छु सकते है और सॉफ्टवेर वह होते है जिन्हें हम छु नहीं सकते है| यहाँ सॉफ्टवेर के बारे में जानेगे व्याहारिक तौर पर देखे तो हार्डवेयर हमारा शरीर और सॉफ्टवेर हमारी आत्मा है जिसे न तो हम देख सकते है और न ही छु सकते है| SOFTWARE का निर्माण COMPUTER पर किसी भी कार्य को सरल करने के लिए किया जाता है| SOFTWARE का निर्माण कार्य के हिसाब से होता है जैसे आपको फोटो से सम्बंधित कोई कार्य करना हो तो PHOTOSHOP जैसे SOFTWARE विडियो के लिए VIDEO PLAYER जैसे SOFTWARE होते है| किसी भी कंप्यूटर को चलने के लिए OPERATING SYSTEM एक महत्वपूर्ण SOFTWARE है इसके बिना कंप्यूटर कार्य नहीं कर सकता है| COMPUTER के HARDWARE और SOFTWARE एक दुसरे पर आधारित होते है|

COMPUTER के तकनीकी रूप से 2 भाग होते है——

%e0%a4%b8%e0%a5%89%e0%a4%ab%e0%a5%8d%e0%a4%9f%e0%a4%b5%e0%a5%87%e0%a4%b0-hindi
1- SYSTEM SOFTWARE { सिस्टम सॉफ्टवेर}
SYSTEM SOFTWARE एक ऐसा PROGRAMME है जिसका काम COMPUTER को चलाना एवं उसे कार्य करने योग्य बनाना है| SYSTEM SOFTWARE ही HARDWARE में जान डालता है|इसके मुख्य भाग OPERATING SYSTEM एवं COMPILER है|
SYSTEM SOFTWARE के प्रकार——
1- WINDOWS {विंडोज}
2- M.S. DOS { एम.एस.डॉस}
3- UNIX {युनिक्स}
4- लिनक्स { लिनक्स}
2- APPLICATION SOFTWARE { अनुप्रयोग/एप्लीकेशन सॉफ्टवेर}
APPLICATION SOFTWARE की मदद से COMPUTER कि कुछ क्रियाएँ जैसे जोड़,घटाना,गुणा,भाग आदि क्रियाएँ करता है|
APPLICATION SOFTWARE के प्रकार ——
1- OPERA (WEB BROWSER) { ओपेरा (वेब ब्राउज़र)}
2- MICROSOFT (SPREAD SHEET SOFTWARE) { माइक्रोसॉफ्ट (स्प्रेड शीट सॉफ्टवेयर)}
3- MICROSOFT POWER POINT (PRESENTATION SOFTWARE)} { माइक्रोसॉफ्ट पॉवर पॉइंट (प्रेजेंटेशन सॉफ्टवेर)}

 

what is pen drive in hindi?

<h1> PEN DRIVE(पेन ड्राइव) क्या  है?</h1>

PEN DRIVE एक HIGHLIGHTER PEN की तरह दिखने वाला एक उपकरण है| जिसका उपयोग डेटा STORE करने में किया जाता है| इसका अविष्कार सन 1999 में एम. सिस्टम ने किया था| Continue reading “what is pen drive in hindi?”

ehindistudy.com is now available…

अगर आपको ज्यादा it/cs के हिंदी में नोट्स चाहिए तो ehindistudy.com में जा सकते है।

Isme aapko polytechnic, b.tech, aur computer science k notes hindi m prapt ho jayenge.

EHINDISTUDY.COM

Note:-आपको यह पोस्ट कैसी लगी बताने के लिए comment करें तथा comment के द्वारा अपने सवाल पूछें।

functions of operating system in Hindi

operating system एक महत्वपूर्ण program है जो कि computer पर run करता है operating system बेसिक tasks पर perform करता है keyboard से इनपुट मिलने के बाद operating system आउटपुट display screen पर दिखाता है|

इसे पूरा पढने के लिए क्लिक करें:- ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

दूसरे शब्दों में operating system (OS) एक System software है जो कि computer के software और hardware service  के resources को manage करता है और common service प्रदान करता है | operating system कंप्यूटर के memory और processing को manage करता है |

image

Operating system के बिना computer useless है |

Operating system का एक उदाहरण Microsoft Windows 7 , 8 तथा XP है |

Operating system का प्रथम बार उपयोग सन् 1961 में हुआ था |

Functions of operating system in Hindi 

Operating system के तीन मुख्य function होते है :-

1:- operating system कंप्यूटर तथा user के मध्य interface उपलब्ध करता है |
2:- computer resources जैसे – central processing unit (CPU), memory , disc drive और printer को manage करता है |
3:- application software के लिए services प्रदान करता है |

Operating system के कुछ अन्य functions निम्नलिखित है |

• operating system एक resources manager की तरह कार्य करता है जो की hardware और software resources को control और allocate करने का कार्य करता है |

• ऑपरेटिंग सिस्टम  application program की तरह interface करता है | जब आप एक computer पर application बनाते है तो उसे आप किसी दूसरे computer पर भी चला सकते है |

• जब हम किसी device driver को computer से जोड़ते है तो operating system इसे कण्ट्रोल करता है |

• यह command interpreter की तरह कार्य करता है |

• यह computer में jobs की प्राथमिकता ज्ञात करता है |

• यह memory में allocation और reallocation का कार्य करता है |

• input तथा output ऑपरेशन का कार्य करता है |

• devices को सुरक्षा प्रदान करता है |

• computer में local और remote files को control करता है |

• operating system का एक और कार्य security उपलब्ध कराना है | अर्थात् यह viruses को कंप्यूटर में आने से रोकता है.

 

image

 

types of operating system in hindi {ऑपरेटिंग सिस्टम} के प्रकार

single user {सिंगल यूजर}:- इस तरह के ऑपरेटिंग सिस्टम में एक बार में केवल एक ही यूजर काम कर सकता है|

multi user {मल्टी यूजर}:- इस तरह के ऑपरेटिंग सिस्टम में एक बार में एक से अधिक यूजर काम कर सकते है|
ऑपरेटिंग सिस्टम को काम करने के mode के आधार पर दो भागों में बाटा गया है:-

1:- character user interface {करैक्टर यूजर इंटरफ़ेस}:-  जब यूजर सिस्टम के साथ करैक्टर के द्वारा सूचना डेटा है तो इसे करैक्टर यूजर interface कहते है| जैसे:- M.S. DOS व UNIX आदि|
2:- graphical user interface {ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस}:- जब यूजर चित्रों के माध्यम से सूचना का आदान- प्रदान करता है| तो इसे graphical user interface कहते है|
जैसे:- windows आदि|

Note:- आपको यह पोस्ट कैसी लगी बताने के लिए comment करें तथा comment के द्वारा अपने सवाल पूछें।